• February 24, 2024
 यहां तो विकास भवन में ही तीन दिन से नहीं है बिजली

अंधेरे में हो रहा काम,विकास भवन में तीन दिन से बिजली नहीं

08c43bc8-e96b-4f66-a9e1-d7eddc544cc3
345685e0-7355-4d0f-ae5a-080aef6d8bab
5d70d86f-9cf3-4eaf-b04a-05211cf7d3c4
IMG-20240117-WA0007
IMG-20240117-WA0006
IMG-20240117-WA0008
IMG-20240120-WA0039

यूपी/संतकबीरनगर 
विकास भवन में तीन दिन से बिजली नहीं आ रही है। जनरेटर चलाया जा रहा है लेकिन इससे केवल सीडीओ, पीडी डीआरडीए व मनरेगा सेल में पंखा चल रहे हैं, बल्ब जल रहे हैं। वहीं अन्य विभागों के दफ्तरों में ऐसा नहीं। इसकी वजह से विभिन्न विभागों के अधिकारी व कर्मचारी पसीना पोछते हुए किसी प्रकार काम कर रहे हैं। वहीं कुछ विभागों के अधिकारी व कर्मचारी बाहर टहलकर समय काट रहे हैं। कुछ विभागों के दफ्तर में उमस और गर्मी के चलते सारी कुर्सियां ही खाली मिली। पूछने पर अधिकारियों व कर्मचारियों ने बताया कि सरकारी कामकाज करने में उन्हें काफी दिक्कत हो रही है। विकास भवन के विभिन्न दफ्तरों में यह रही स्थिति…।

बाहर टहलकर समय बीता रहे थे अधिकारी
विकास भवन के तीसरे तल में पसीने से डूबे अनुसूचित जाति वित्त एवं विकास निगम के जिला प्रबंधक महेंद्र कुमार अपने दफ्तर से निकलकर बाहर टहल रहे थे। उनके विभाग के कर्मी पसीना पोछते हुए किसी तरह विभागीय काम करते हुए दिखे।

अंधेरे में गर्मी का सामना करते हुए काम करते मिले डीपीआरओ
प्रभारी डीपीआरओ राजेंद्र प्रसाद अपने चैंबर में अंधेरे में बैठे हुए मिले। वह गर्मी का सामना करते हुए अपने अधीनस्थ कर्मी जिला परियोजना प्रबंधक सिद्धनाथ पांडेय से सामुदायिक शौचालय व पंचायत भवन की प्रगति के बारे में विमर्श करते हुए मिले। वहीं उनके लेखाकार आकाश सिन्हा पसीने से भीगे थे, लेकिन इसके बाद भी काम निपटा रहे थे।

समाज कल्याण के लेखाकार पंखा चलाते हुए मिले
समाज कल्याण के लेखाकार दुर्गेश मिश्र अपने कार्यालय में बैठे हुए थे। वह लाल रंग का शादी का कार्ड हिलाकर उमस से बचने का प्रयास करते हुए दिखे। उनके दफ्तर के कुछ कर्मी विकास भवन के परिसर में टहलकर तो कुछ गेट के पास दुकान पर समय बिताते हुए मिले।

दिव्यांग कल्याण विभाग छाया रहा अंधेरा
दिव्यांग कल्याण विभाग में अंधेरा छाया रहा। कनिष्ठ लिपिक रमेश कुमार व अन्य कर्मी अंधेरे में कभी तौलिया से पसीना पोछते हुए मिले तो कभी कम रोशनी के बावजूद काम करते हुए। इन कर्मियों ने कहा कि काम करना मुश्किल हो गया है।

आरइडी के दफ्तर की खाली रही कुर्सियां
ग्राम्य विकास अभिकरण (आरइडी) के दफ्तर में कुर्सियां खाली रहीं। इस विभाग के कर्मी बाहर टहलकर समय काट रहे थे। यही स्थिति बगल के पंचायत एवं नगरीय निकाय चुनाव कार्यालय की रही। विभाग के कर्मियों की इस परेशानी की खोज-खबर लेने वाला कोई नहीं रहा।

जानकारी लेकर की जाएगी उचित पहल
डीएम दिव्या मित्तल ने कहा कि ऐसी नौबत क्यों आई, वह इसके बारे में सीडीओ से बात करेंगी। उनसे जानकारी प्राप्त कर उचित पहल करेंगी ताकि कर्मियों को सरकारी काम करने में कोई दिक्कत न हो।

विकास भवन के छत से टपकता है पानी, इसलिए बाधित है आपूर्ति
खलीलाबाद खंड कार्यालय के एक्‍सईएन आरके सिंह ने बताया कि बारिश होने पर विकास भवन के छत से पानी टपकता है। इसकी वजह से वहां विद्युत आपूर्ति बाधित है। विकास भवन में लगा बिजली उपकरण इससे पूर्व भी बारिश की वजह से खराब हो चुका है। जल्द ही विकास भवन की आपूर्ति बहाल की जाएगी।

Youtube Videos