• April 14, 2024
 मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के तहत अभी तक सरकार देती थी 15 हजार रुपये, छह श्रेणियों में दी जाने वाली राशि में हुई वृद्धि

सीएम योगी ने निभाया वादा, बेटियों को अब मिलेंगे ₹25 हजार

08c43bc8-e96b-4f66-a9e1-d7eddc544cc3
345685e0-7355-4d0f-ae5a-080aef6d8bab
5d70d86f-9cf3-4eaf-b04a-05211cf7d3c4
IMG-20240117-WA0007
IMG-20240117-WA0006
IMG-20240117-WA0008
IMG-20240120-WA0039

सीएम योगी आदित्यनाथ की घोषणा के उपरांत महिला कल्याण विभाग ने वित्तीय वर्ष 2024-25 के लिए जारी किया आदेश

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बेटियों से किया अपना वादा पूरा कर दिया। मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना में अभी तक छह श्रेणियों में 15 हजार रुपये दिए जाते थे, जिसे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वित्तीय वर्ष 2024-25 से बढ़ाकर 25 हजार रुपये करने की घोषणा की थी। बेटियों के जन्म से लेकर स्नातक/डिप्लोमा में प्रवेश पर यह राशि छह श्रेणियों में दी जाती है। इन सभी श्रेणियों में दी जाने वाली राशि में भी बढ़ोतरी की गई है। पहली अप्रैल से इसका लाभ मिलने लगेगा।

अभी तक योगी सरकार देती थी 15 हजार रुपये
2017 में सत्ता संभालने के पश्चात मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने महिला सशक्तिकरण, सम्मान व स्वावलंबन पर विशेष जोर दिया। कन्या भ्रूण हत्या समाप्त करने, समान लैंगिक अनुपात स्थापित करने, बाल विवाह की कुप्रथा रोकने, बालिकाओं के स्वास्थ्य व शिक्षा को प्रोत्साहन देने, स्वावलंबी बनाने में सहायता प्रदान करने व बालिका के जन्म के प्रति समाज में सकारात्मक सोच विकसित करने आदि के उद्देश्य से महिला कल्याण विभाग की ओर से अप्रैल 2019 से मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना का आगाज किया गया था। इस मद में छह श्रेणियों में कुल 15 हजार रुपये दिए जाते थे।

छह श्रेणियों में दी जाने वाली राशियों में की गई वृद्धि
महिला कल्याण विभाग की निदेशक संदीप कौर ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस राशि को बढ़ाने की घोषणा की थी। इसके बाद छह श्रेणियों में दी जाने वाली राशियों में वृद्धि कर दी गई है। पहले जन्म के समय दो हजार रुपये दिए जाते थे, जिसे वित्तीय वर्ष 2024-26 से बढ़ाकर पांच हजार रुपये कर दिया गया है। एक वर्ष के समस्त टीकाकरण पूर्ण होने पर अभी तक एक हजार रुपये दिए जाते थे। यह राशि बढ़ाकर दो हजार रुपये कर दी गई है। बालिका के कक्षा प्रथम में प्रवेश पर अभी तक दो हजार रुपये दिए जाते थे। इसे बढ़ाकर अब तीन हजार रुपये कर दिया गया है। चौथी श्रेणी के अंतर्गत कक्षा छह में प्रवेश पर अब तक सरकार की तरफ से दो हजार रुपये प्रदान किए जाते थे। यह राशि भी अब तीन हजार रुपये कर दी गई है। पांचवीं श्रेणी के तहत कक्षा 9 में प्रवेश पर अभी तक तीन हजार रुपये दिए जाते थे, जो राशि अब बढ़कर पांच हजार हो गई है। वहीं छठवीं श्रेणी में दसवीं या बारहवीं उत्तीर्ण कर दो वर्षीय या उससे अधिक अवधि के डिप्लोमा या स्नातक में प्रवेश पर अभी तक बालिका के खाते में पांच हजार रुपये दिए जाते थे। इस मद में भी राशि बढ़ाकर कुल सात हजार रुपये कर दी गई है। इस तरह पूरी धनराशि 15 हजार से बढ़ाकर 25 हजार रुपये कर दी गई है।

Youtube Videos

Related post