• February 21, 2024
 जमीन से लेकर आसमान तक रहेगी नजर, राष्ट्रपति के आगमन की तैयारीयां पूरी

गोरखपुर। भटहट ब्लाक के पिपरी में आज आयुष विश्वविद्यालय का शिलान्यास राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के कर कमलों द्वारा किया जाएग। कार्यक्रम की सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लेने के लिए अपर पुलिस महानिदेशक सुरक्षा मुख्यालय लखनऊ विनोद कुमार सिंह पिपरी में पहुंचे थे। वहीं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शुक्रवार को लखनऊ से सीधे हेलीकाप्टर से भटहट के पिपरी गांव पहुंचे। यहां पर उन्होंने महायोगी गुरु गोरक्षनाथ उत्तर प्रदेश राज्य आयुष विश्वविद्यालय शिलान्यास स्थल का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने तैयारियों को लेकर अधिकारियों के साथ वार्ता कर जानकारी हासिल की। उन्होंने सुरक्षा समेत अन्य तैयारियों को लेकर दिशा-निर्देश भी दिए।

08c43bc8-e96b-4f66-a9e1-d7eddc544cc3
345685e0-7355-4d0f-ae5a-080aef6d8bab
5d70d86f-9cf3-4eaf-b04a-05211cf7d3c4
IMG-20240117-WA0007
IMG-20240117-WA0006
IMG-20240117-WA0008
IMG-20240120-WA0039

मंच की सुरक्षा का दायित्व संभाल रहे पुलिस अधीक्षक उत्तरी मनोज कुमार अवस्थी से आवश्यक जानकारियां प्राप्त कर कार्यक्रम स्थल मंच पर पहुंचकर निरीक्षण किया। उन्होंने वरिष्ठ अधिकारियों से कहा कि राष्ट्रपति भवन से प्राप्त प्रोटोकॉल और शासन से मिले दिशानिर्देशों का शत प्रतिशत पालन किया जाए। सिंह ने बताया कि बाहर के पुलिस अधिकारियों, मजिस्ट्रेटों एवं अन्य कर्मचारियों की मानक अनुसार ड्यूटी लगाने व महामहिम के आसपास मौजूद सभी लोगों का आरटीपीसीआर टेस्ट अनिवार्य रूप से कराने के निर्देश दिए। अपर पुलिस महानिदेशक ने कहा कि कोविड पूरी तरह समाप्त नहीं हुआ है। पुलिस अधीक्षक नगर सोनम कुमार सहायक पुलिस अधीक्षक राहुल भाटी ज्वाइंट मजिस्ट्रेट/ एसडीएम सदर कुलदीप मीना एसडीएम कैंपियरगंज अरुण कुमार सिंह भी रहे मौजूद।

एयरपोर्ट पर भोजन करेंगे महामहिम

राष्ट्रपति के आगमन के मद्देनजर मौसम प्रतिकूल होने पर प्रशासन ने वैकल्पिक व्यवस्था भी कर रहा है। एयरपोर्ट पर महामहिम के आराम करने, भोजन करने का भी प्रबंध रहेगा। सड़क मार्ग से राष्ट्रपति को ले जाने की स्थिति आने पर किसी समस्या का सामना न करना पड़े, इसलिए सड़क की पैचिंग का काम भी किया गया है। राष्ट्रपति के आगमन को लेकर अधिकारियों की एयरपोर्ट पर भी ड्यूटी लगाई गई है। राष्ट्रपति के आगमन को देखते हुए डीएम विजय किरन आनंद ने सभी अधिकारियों एवं विभागाध्यक्षों के मुख्यालय छोड़ने पर रोक लगा दी है। अधिकारी अपने अधीनस्थ कर्मचारियों को भी विशेष परिस्थिति में ही अवकाश प्रदान करेंगे।

 

 

इन लोगों से मुलाकात करेंगेे राष्ट्रपति

राष्ट्रपति गीताप्रेस के ट्रस्टी से भी मुलाकात करेंगे। चार लोगों ट्रस्टी देवी दयाल अग्रवाल, ईश्वर प्रसाद पटवारी, मुरली मनोहर सर्राफ और उत्पाद प्रबंधक लालमणि तिवारी उनसे मिलेंगे। उन्हें मुलाकात के लिए योगिराज बाबा गंभीरनाथ अतिथि भवन, बालापार रोड, सोनबरसा में बुलाया गया है। वहां पर गीता प्रेस के शताब्दी समारोह के बारे में भी राष्ट्रपति को बतौर मुख्य अतिथि आगमन को लेकर भी वार्ता हो सकती है। इसके अलावा राष्ट्रपति पूर्व केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री और भाजपा के सचेतक शिव प्रताप शुक्ल, वंदना सिंह, अवधेश कुमार सिंह, डॉ समीर सिंह प्रदेश प्रवक्ता बीजेपी और बीजेपी के पनियरा से विधायक फतेह बहादुर सिंह से भी मुलाकात करेंगे।

 

भोजन में परोसा जाएगा लिट्टी चोखा

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद सोनबरसा में भोजन करेंगे। उनके लंच के लिए लिट्टी-चोखा, काला नमक चावल और पनीर बेगम बहार परोसने की तैयारी पूरी हो चुकी है। राष्ट्रपति के गोरखपुर आगमन से प्रस्थान तक नाश्ते और दोपहर के भोजन का पूरा मेन्यू तैयार कर लिया गया है। राष्ट्रपति भवन से अनुमति के बाद सारी तैयारी चल रही हैं।

 

एयरपोर्ट पर चाय और फल, सोनबरसा में भोजन

एयरपोर्ट आगमन पर सबसे पहले ग्रीन- टी दिया जाएगा। उसके बाद मौसमी फल परोसा जाएगा। यहां से प्रस्थान के बाद पिपरी में हाई-टी का इंतजाम किया गया है। यहां ग्रीन टी के बाद ड्राई फ्रूट और फिर मौसमी फल परोसे जाएंगे। यहां से सोनबरसा में भोजन का इंतजाम किया गया है। लंच में राष्ट्रपति को सबसे पहले वेजीटेबल सूप दिया जाएगा। इसके बाद मेन कोर्स में लिट्टी चोखा, दाल तड़का, पनीर बेगम बहार, सेव-टोमैटो करी और सिद्धार्थनगर का ओडीओपी काला-नमक चावल भी थाली में परोसा जाएगा। भोजन के बाद सुगर फ्री अंजीर की खीर दी जाएगी। इन सभी व्यंजनों को बनाने के लिए गोरखपुर के एक निजी होटल को जिम्मेदारी मिली है। यहां सेफ बाहर से बुलाए जा रहे हैं। लंच तैयार करने के समय जिला प्रशासन की खाद्य विभाग की पूरी टीम मौजूद रहेगी।

 

 

राष्ट्रपति के आगमन पर नहीं होगी उड़ान

राष्ट्रपति की सुरक्षा को लेकर उनके जिले में रहने के दौरान नो फ्लाइंग जोन रहेगा। इस दौरान न ही कोई फ्लाइट यहां लैंड करेगी और न ही कोई उड़ान होगी। जबकि राष्ट्रपति के कार्यक्रम स्थल की ओर पड़ने वाले रेल रूट पर ट्रेनों का संचालन भी रोक दिया जाएगा।

 

राष्ट्रपति के रहने तक रोस्टिंग मुक्त हुआ गोरखपुर

पावर कारपोरेशन ने गोरखपुर के शहरी व ग्रामीण क्षेत्र को रोस्टिंग से मुक्त कर दिया। अवर अभियंता व सहायक अभियंताओं को बिजली घरों पर मुस्तैद रहने के निर्देश दिए गए है। फाल्ट की सूचना मिलते ही उसे बनवाने की जिम्मेदारी अभियंताओं की तय की गई है। नोडल अधिकारी ई.राजीव चतुर्वेदी ने बताया कि गोरखनाथ से लेकर भटहट तक पड़ने वाले सभी 13 बिजली घरों के कर्मचारियों को अलर्ट पर रखा गया है।

राष्ट्रपति के कार्यक्रम स्थल पिपरी के पास से गुजर रही 11 केवी की 300 मीटर की लाइन के नीचे जाली लगाकर उसे सुरक्षित कर दिया गया है। इसके साथ ही वीवीआईपी पार्किंग स्थल से गुजरने वाली 11 केवी की 280 मीटर लाइन के तार बदलने के साथ ही जाली लगाकर उसे भी सुरक्षित किया गया है।

 

ड्रोन और सेटेलाइन से रखी जा रही नजर

 

इसके साथ ही शहर के होटल, ढाबों और लॉज से लेकर रेलवे स्टेशन, बस स्टेशन और सड़क किनारे जुग्गी- झोपड़ी डालकर रहने वाले हर संदिग्ध व्यक्तियों की चेकिंग कराई जा रही है। ताकि राष्ट्रपति की सुरक्षा में किसी तरह की कोई चूक न होने पाए। जबकि यूपी एटीएस की टीम ने प्रदेश भर के संदिग्धों को रडार पर रखा है। इस दौरान ड्रोन और सेटेलाइट के जरिए सिर्फ गोरखपुर जिले पर ही नहीं बल्कि बिहार और नेपाल बार्डर तक की हर गतिविधियों पर नजर रखी जा रही है।

 

नेपाल और बिहार बार्डर होंगे सील

शुक्रवार की शाम से ही नेपाल और बिहार बार्डर को पूरी तरह से सील कर दिया गया है। सुरक्षा के लिहाज से राष्ट्रपति के जिले में रहने के दौरान इन दोनों बार्डर पर किसी भी व्यक्ति या वाहनों का आवागमन पूरी तरह से प्रतिबंधित रहेगा।

 

जिले भर में बदली रहेगी ट्रैफिक व्यवस्था

 

राष्ट्रपति की सुरक्षा को देखते हुए ट्रैफिक पुलिस ने जिले भर में रूट डायवर्जन किया है। इस दौरान शहर के बाहर से आने वाले किसी भी वाहन का शहर में प्रवेश नहीं होगा। जबकि शहर के विभिन्न रास्तों को भी डायवर्ट किया गया है। राष्ट्रपति के आगमन पर शनिवार को सुबह 6 बजे से जिले में रूट डावर्जन लागू रहेगा। उनके शहर में रहने तक लोगों को बदले हुए रूट से आवाजाही करनी होगी। सुरक्षा कारणों से कई रास्तों पर आवाजाही बंद रहेगी। एसपी ट्रैफिक आरएस गौतम ने बताया कि निर्देश की अवहेलना करने वालों पर कार्रवाई होगी।

Youtube Videos

Related post