• May 25, 2024
 कोविड व इंसेफ्लाइटिस मुक्त शहर बनाने में जन सहयोग जरूरी-सीएमओ

-टीकाकरण में अवरोध पैदा करने वालों पर रहेगी नजर, होगी कार्रवाई

08c43bc8-e96b-4f66-a9e1-d7eddc544cc3
345685e0-7355-4d0f-ae5a-080aef6d8bab
5d70d86f-9cf3-4eaf-b04a-05211cf7d3c4
IMG-20240117-WA0007
IMG-20240117-WA0006
IMG-20240117-WA0008
IMG-20240120-WA0039

-मेडिकल कालेज में भर्ती मरीज के बारे में जानकारी न होने पर आशा कार्यकर्ता पर होगी कार्यवाही

गोरखपुर।

सीएमओ कार्यालय स्थित प्रेरणा श्री सभागार में शुक्रवार को स्वास्थ्य संचार सुदृढ़ीकरण संबंधित मीडिया संवेदीकरण कार्यशाला का अयोजन किया गया। स्वास्थ्य विभाग की तरफ से स्वयंसेवी संस्था सेंटर फॉर एडवोकेसी एंड रिसर्च (सीफॉर) के सहयोग से आयोजित कार्यशाला में कोविड टीकाकरण एवं इंसेफ्लाइटिस उन्मूलन पर गंभीर मंथन किया गया।

सीएमओ डॉ. सुधाकर पांडेय ने कहा कि कोविड औरइंसेफ्लाइटिस से गोरखपुर को मुक्त कराने के लिए जनसमुदाय का सहयोग नितांत आवश्यक है । स्वास्थ्य विभाग प्रत्येक व्यक्ति को कोविड का टीका लगवाएगा और हर बुखार के रोगी को स्वास्थ्य सेवा प्रदान करेगा । कोविड टीकाकरण स्थल पर मास्क, दो गज की दूरी, साफ-सफाई जैसे प्रोटोकॉल के उल्लंघन पर संबंधित के खिलाफ कार्यवाही की जाएगी ।

इसके अलावा अगर कोई टीकाकरण में अवरोध पैदा करता है तो जिला प्रशासन के दिशा-निर्देशों के अनुसार कानूनी कार्यवाही होगी । इतना ही नहीं, अगर इंसेफ्लाइटिस का कोई मरीज सीधे बीआरडी मेडिकल कालेज में भर्ती करा दिया जाता है तो इसकी जानकारी आशा व आंगनबाड़ी कार्यकर्ता को होनी चाहिए। जानकारी न होने की दशा में उनके खिलाफ विभागीय कार्यवाही होगी ।

बुखार आने पर स्वास्थ्य कर्मियों से करें सपंर्क

डॉ. पांडेय ने कहा कि बारिश के मौसम में अगर किसी में भी तेज बुखार की शिकायत है तो उसे आशा, एएनएम और आंगनबाड़ी कार्यकर्ता की मदद से नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र की सेवाएं प्राप्त करनी चाहिए। बुखार की स्थिति में 108 नंबर एंबुलेंस की सेवा लेनी है। अपने मन से न तो दवा लेनी है और न ही किसी अप्रशिक्षित की सलाह पर इलाज करना है । मरीज को सीधे मेडिकल कालेज ले जाने की बजाय पहले स्थानीय और नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र पर ले जाना है ताकि ट्रांसपोर्टेशन के समय की बचत हो और इलाज में देरी न हो ।

10 अस्पताल को मिल चुका है कायाकल्प अवार्ड

इस मौके पर अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी (आरसीएच) डॉ. नंद कुमार ने कहा कि 19 अगस्त को घोषित परिणाम के अनुसार खोराबार, जंगल कौड़िया, ब्रह्मपुर, कौड़ीराम, सरदारनगर, डेरवा और पिपरौली प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को कायाकल्प अवार्ड मिला है। इस तरह वित्तीय वर्ष 2020-21 में गोरखपुर जिले को कुल 10 ब्लाक अस्पताल को कायाकल्प अवार्ड मिल चुके हैं।

नियमित टीकाकरण पर भी पूरा ध्यान

जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ. नीरज कुमार पांडेय ने कहा कि कोविड टीकाकरण के साथ ही नियमित टीकाकरण की स्थिति भी अब सामान्य हो गयी है । ऐसे में लोगों से अपील है कि प्रत्येक बुधवार और शनिवार को नियमित टीकाकरण अवश्य करवाएं । शहर में चार स्थानों पर प्रतिदिन नियमित टीकाकरण हो रहा है । मोहद्दीपुर और बसंतपुर शहरी स्वास्थ्य केंद्र, एम्स और जिला महिला अस्पताल में किसी भी कार्यदिवस पर नियमित टीकाकरण करवाया जा सकता है ।

व्हाट्सएप पर प्राप्त करें प्रमाण पत्र

जिला प्रतिरक्षण अधिकारी ने बताया कि कोविड-19 से जुड़ी जानकारी प्राप्त करने व टीकाकरण प्रमाणपत्र प्राप्त करने के लिए वाट्सएप सुविधा भी सरकार ने शुरू की है। इसके लिए सबसे पहले वाट्सएप नम्बर- 9013151515 को अपने रजिस्टर्ड मोबाइल के कॉन्टैक्ट लिस्ट में मायजीओवी (MyGov) नाम से सेव कीजिये । इसके बाद वाट्सएप पर जाकर इस नम्बर पर हाय (Hi) का संदेश भेजिए, उसके बाद एक से लेकर आठ तक के आप्शन आएंगे कि आप इनमें से जिस तरह की जानकारी चाहते हैं, उस नंबर को दर्ज करें। इसके बाद आपके रजिस्टर्ड मोबाइल पर वन टाइम पासवार्ड (ओटीपी) आएगा, जिसे दर्ज करने के बाद मांगी गयी जानकारी या कोविड टीकाकरण का प्रमाणपत्र आपकी स्क्रीन पर होगा ।

Youtube Videos

Related post