• June 16, 2024
 मुख्यमंत्री ने आयुष विश्वविद्यालय के शिलान्यास की तैयारियों की संभाली कमान

-मुख्यमंत्री लखनऊ से सीधे कार्यक्रम स्थल पर बने हेलीपैड पर पहुंचे

08c43bc8-e96b-4f66-a9e1-d7eddc544cc3
345685e0-7355-4d0f-ae5a-080aef6d8bab
5d70d86f-9cf3-4eaf-b04a-05211cf7d3c4
IMG-20240117-WA0007
IMG-20240117-WA0006
IMG-20240117-WA0008
IMG-20240120-WA0039

गोरखपुर। जिले के भटहट ब्लॉक के पिपरी व तरकुलही में बनने जा रहे राज्य के पहले आयुष विश्वविद्यालय का शिलान्यास 28 अगस्त को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के हाथों होगा। शिलान्यास समारोह को भव्य और यादगार बनाने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ खुद इंतजामों पर नजर रखे हुए हैं। तैयारियों का जायजा लेने मुख्यमंत्री मंगलवार को सीधे लखनऊ से हेलीकाप्टर से सीधे समारोह स्थल पर बने हेलीपैड पर पहुंचे।

यहां उन्होंने तैयारियों का जायजा लिया और अधिकारियों को जरूरी निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री ने शिलान्यास स्थल की तैयारियों को देखा। उन्होंने अफसरों को निर्देश दिए कि वह दिन-रात काम कर तैयारियों को समय से पूरा करें। राष्ट्रपति के कार्यक्रम में आने वाले अतिथियों की सूची पहले ही तय कर ली जाए। कार्यक्रम संपन्न होने के बाद भी व्यवस्था पहले की तरह रहनी चाहिए। ऐसा न हो कि कार्यक्रम खत्म होने के बाद सड़कों पर जाम लग जाए और लोगों को असुविधा का सामना करना पड़े। आयुष विश्वविद्यालय का निरीक्षण करने के बाद मुख्यमंत्री हेलीकाप्टर से सोनबरसा स्थित गुरु गोरक्षनाथ विश्वविद्यालय पहुंचे। उन्होंने पूरे परिसर का निरीक्षण किया।

 

सुरक्षा में न हो कोई लापरवाही

भटहट के पिपरी में शिलान्यास समारोह के लिए चयनित स्थल पर पहुंचते ही सीएम योगी ने साफ सफाई, मुख्य मंच, सेफ हाउस, दर्शक दीर्घा आदि का अवलोकन किया। उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया कि राष्ट्रपति के कार्यक्रम के दौरान न तो कहीं सफाई में कमी आनी चाहिए और न ही किसी को असुविधा होनी चाहिए। सीएम ने पिपराइच के विधायक महेन्द्रपाल सिंह और डीएम विजय किरण आनंद से कहा कि समारोह में जिन लोगों को आमंत्रित किया जाना है, उनकी सूची समय से बन जानी चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि राष्ट्रपति के कार्यक्रम के बाद भी सुरक्षा व्यवस्था पर ध्यान देने की जरूरत है। कार्यक्रम समाप्त होने के बाद लोगों के जाने के दौरान किसी भी प्रकार की अव्यवस्था नहीं होनी चाहिए।

बच्चों-युवाओं को देखते ही रुके सीएम

पिपरी में आयुष विश्वविद्यालय के शिलान्यास समारोह की तैयारियों का निरीक्षण करने के बाद मुख्यमंत्री जब हेलीपैड की तरफ बढ़ रहे थे, तभी उनकी नजर समूह में जुटे बच्चों और युवाओं पर पड़ गई। चिर परिचित अंदाज में मुस्कुराते हुए योगी कुछ देर के लिए वहीं रुक गए। बड़े ही आत्मीयता से सीएम ने पूछा, कैसे हैं आप लोग? कोई दिक्कत तो नहीं? कोई परेशानी हो तो बेहिचक बताइएगा। सूबे के मुखिया के इस अपनत्व से यहां मौजूद बच्चे, किशोर व युवा निःशब्द थे। जोरदार ताली बजाकर और जय श्रीराम का उद्घोष कर उन्होंने सीएम योगी के प्रति अपने भाव प्रकट किए।

मुख्यमंत्री के गोला जाने का कार्यक्रम निरस्त

मुख्यमंत्री का गोला का दौरा निरस्त हो गया है। प्रशासन ने मुख्यमंत्री की व्यस्तता के कारण दौरा निरस्त होने की जानकारी दी है। हालांकि तैयारियां अभी चल रही हैं। उम्मीद है कि दो-तीन दिन के भीतर मुख्यमंत्री गोला जाएंगे और बाढ़ पीड़ितों से मुलाकात कर राहत सामग्री का वितरण करेंगे। बाढ़ पीड़ितों से मुलाकात के मद्देनजर गोला के वीएसएवी इंटर कालेज में कई दिनों से तैयारी चल रही थी। पिछले सप्ताह भी मुख्यमंत्री को आना था लेकिन व्यस्तता के कारण वह नहीं आ सके थे।

हेलीपैड से निकाला जा रहा है पानी

लगातार हो रही बरसात से आयुष विश्वविद्यालय परिसर में पानी लग जा रहा है। मुख्यमंत्री के निरीक्षण के पहले हेलीपैड पर इकट्ठा पानी निकालने के लिए पंपिंग सेट चलाया गया। सफाईकर्मी लगातार हेलीपैड से शिलान्यास स्थल तक की सफाई में जुटे रहे। हेलीकाप्टर लैंड करने और सकुशल वापस चले जाने के बाद अफसरों ने राहत की सांस ली।

Youtube Videos

Related post