• February 28, 2024
 गोरखपुरः सीएम ने योगी ने किया महंत अवेद्यनाथ राजकीय महाविद्यालय का लोकार्पण, इसी साल शुरू होंगी क्लासेज

गोरखपुर। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जब सोच ईमानदार होती है तो काम दमदार होते हैं और दिखाई भी देते हैं। वर्ष 2017 के बाद उत्तर प्रदेश देश की सबसे तेजी से उभरती अर्थव्यवस्था के रूप में सामने आया है। कभी सभी कल्याणकारी योजनाओं में काफी पीछे रहने वाला यह प्रदेश आज देश की 44 योजनाओं में नम्बर एक है। यह दुनिया के लिए सबसे अच्छा निवेश और सुरक्षा का वातावरण देने वाला राज्य है। यह नया और उभरता उत्तर प्रदेश अब देश की अग्रणी अर्थव्यवस्था बनने की ओर अग्रसर है।

08c43bc8-e96b-4f66-a9e1-d7eddc544cc3
345685e0-7355-4d0f-ae5a-080aef6d8bab
5d70d86f-9cf3-4eaf-b04a-05211cf7d3c4
IMG-20240117-WA0007
IMG-20240117-WA0006
IMG-20240117-WA0008
IMG-20240120-WA0039

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बुधवार को जंगल कौडिया में स्थित महंत अवेद्यनाथ राजकीय महाविद्यालय का लोकार्पण करने के बाद समारोह को संबोधित कर रहे थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि महंत अवेद्यनाथ यहां से चार से पांच बार विधायक व चार बार सांसद रहे और इस क्षेत्र में बिरला ही कोई परिवार रहा होगा, जिससे महराज जी न जुड़े हों। महंत अवेद्य नाथ यहां के प्रत्येक परिवार से प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से जुड़े रहे।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि धर्म को व्याहवारिक रूप से जीने का कार्य गोरक्षपीठ के आचार्यो ने किया था। सांसारिक उत्कर्ष का मार्ग प्रशस्त करना और आध्यात्मिक रूप से मानव जीवन को हर क्षेत्र में अग्रणी करना इस पीठ की परंपरा रही है।

पीठ के बाद महाराणा प्रताप शिक्षा परिषद इस कार्य को अनवरत कर रहा है। इस परिषद के अंतर्गत चार दर्जन से अधिक शिक्षण संस्थाएं कार्यरत है जिसमें पचास हजार से अधिक छात्र -छात्राएं अध्ययन कर रहे हैं।

बालिकाएं हर क्षेत्र में बढ़चढ़ कर ले रहीं हिस्सा:

इस दौरान मुख्यमंत्री ने महंत अवेद्यनाथ राजकीय महाविद्यालय में पहले सत्र में ही 490 छात्र -छात्राओं के दाखिले पर प्रसन्नता व्यक्त की। बालिकाओं की अधिक संख्या पर मुख्यमंत्री ने कहा कि यह दर्शाता है कि बालिकाएं बालकों से यहां भी आगे हैं। यही नहीं बालिकाएं हर क्षेत्र में बढ़चढ कर हिस्सा ले रही हैं। जो बालिकाओं के उत्साह व विकास को दर्शाता है।

इस अवसर पर उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने कहा कि तीस करोड़ की लागत से बने इस महाविद्यालय में आधुनिक शिक्षा की सभी सुविधाएं मौजूद होंगी। यह शिक्षा के लिए दूर -दूर तक जाना जाएगा।

शिक्षा के क्षेत्र में अभूतपूर्व शिक्षण का यह परिचायक बनेगा। आज पूरा प्रदेश मुख्यमंत्री के नेतृत्व में शिक्षा के नए कीर्तिमान स्थापित कर रहा है। नकल विरोधी शिक्षा की शुरूआत हुई जिसमें आधुनिक तकनीकों का समावेश किया गया। परीक्षा का पैटर्न बदला, पाठ्यक्रम का पैटर्न बदला और प्रदेश में नई शिक्षा पद्धति की शुरुआत हुई। आज पूरे प्रदेश में विद्यार्थियों के लिए शिक्षा का उत्तम माहौल है।

इस अवसर पर प्रदेश के शिक्षा मंत्री, क्षेत्रीय अध्यक्ष डॉ धर्मेन्द्र सिंह, सांसद कमलेश पासवान,सांसद रवि किशन, सांसद जय प्रकाश निषाद , मेयर सीताराम जायसवाल, जिला पंचायत अध्यक्ष साधना सिंह सहित अन्य लोग उपस्थित रहे।

Youtube Videos

Related post