• June 16, 2024
 20 करोड़ से अधिक लोगों का हो चुका वैक्सीनेशन, अमेरिका के बाद इतनी बड़ी आबादी का टीकाकरण करने वाला दूसरा देश बना भारत

विनीत राय।

08c43bc8-e96b-4f66-a9e1-d7eddc544cc3
345685e0-7355-4d0f-ae5a-080aef6d8bab
5d70d86f-9cf3-4eaf-b04a-05211cf7d3c4
IMG-20240117-WA0007
IMG-20240117-WA0006
IMG-20240117-WA0008
IMG-20240120-WA0039

केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने बुधवार को दावा किया कि 20 करोड़ लोगों को कोरोना टीकाकरण कवरेज को पार करने वाला भारत अमेरिका के बाद दूसरा देश बन गया. मंत्रालय ने दावा किया है कि 60 साल से ऊपर की आयु के 42 फीसदी आबादी को वैक्सीन की पहली डोज लग चुकी है. भारत ने वैक्सीन अभियान में मील का पत्थर हासिल किया है.

मंत्रालय ने कहा कि 26 मई को सुबह सात बजे तक उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार 20 करोड़ 6 लाख 62 हजार 456 लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाई जा चुकी है. इसमें से 15 करोड़ 71 लाख 49 हजार 593 को पहली खुराक और 4 करोड़ 35 लाख 12 हजार 863 को कोरोना की दूसरी डोज लगाई जा चुकी है.

 देश में कोरोना के मामले कम जरूर हुए हैं लेकिन संक्रमण अब भी बढ़ रहा है और इस वायरस से होने वाली मौत के आंकड़े में भी कोई बदलाव नहीं है। ऐसे में इस वायरस से लड़ने के लिए देशभर में चलाए जा रहे टीकाकरण अभियान में तेजी लाई गई है, इसी का परिणाम है कि देशभर में टीकाकरण का आंकड़ा आज 20 करोड़ को पार कर गया है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार मंगलवार शाम 7:00 बजे तक भारत में लगभग 15.7 करोड़ लोगों को वैक्सीन की 20 करोड़ से ज्यादा डोज गी गई है, जिसमें से 11.3 करोड़ लोगों को पहली डोज मिली है, वही 4.35 करोड़ लोगों को दोनों डोज दिया जा चुका है।

हेल्थ वर्कर्स और फ्रंटलाइन वर्कर्स को मिला 20 फीसदी डोज
वैक्सीनेशन को लेकर स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़े बताते हैं कि करीब 20 करोड़ डोज में से 20 फीसदी डोज हेल्थ वर्कर्स और फ्रंटलाइन वर्कर्स को दी गई है। वहीं 75.6 फीसदी डोज 45 वर्ष से ज्यादा उम्र के लोगों को दी गई है। जबकि 18-44 साल के लोगों को 6.4 फिसदी वैक्सीन मिला है।

आंकड़ों के अनुसार 45 से 60 वर्ष की आयु के लोगों में 6.2 करोड़ को पहला डोज मिला है, वहीं एक करोड़ लोगों को दोनों डोज दिया जा चुका है। इसके अलावा 60 साल से अधिक उम्र के लोगों को कूल 7.5 करोड़ डोज मिले हैं जिसमें से 5.7 करोड़ को पहली डोज और 1.8 करोड़ को दूसरी डोज मिला है, वही 45 से 60 साल की उम्र वाले लोगों को 7.2 करोड़ वैक्सीन मिला है।

14 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में बढ़ा रिकवरी रेट
बता दें किदेश में कोरोना की दूसरी लहर का कहर लगातार जारी है, कोरोना मामले में मामूली गिरावट आने के बाद एक बार फिर मामले 2 लाख के पार है। वहीं इस वायरस से मरने वालों की संख्या अभी चिंता का विषय है। इस बीच एक राहत देने वाली खबर सामने आयी है। देश के 14 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में कोरोना से ठीक होने वालों का आकंड़ा तेजी से बढ़ रहा है। इन राज्यों में कोरोना को मात देने वालों का प्रतिशत 90 या फिर इससे ज्यादा है। ऐसे में देश में एक्टिव केस की संख्या में कमी आ रही है। मंगलवार को देशभर में एक्टिव केस की संख्या में भारी गिरावट दर्ज किया गया। वहीं कल एक्टिव केस की संख्या 26 लाख हो गई, जो महीने में सबसे ज्यादा 37 लाख पर पहुंच गई थी।

दिल्ली की बात करें तो सबसे ज्यादा रिवकरी रेट वाले राज्यों में ये सबसे ऊपर है, जहां 97 प्रतिशत रिकवरी रेट है। इसके बाद उत्तर प्रदेश, बिहार, और हरियाणा में 94 प्रतिशत रिकवरी रेट है, महाराष्ट्र, तेलंगाना, झारखंडस छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश में करीब 93% के रिकवरी रेट है।

हेल्थ वर्कर्स और फ्रंटलाइन वर्कर्स को मिला 20 फीसदी डोज
वैक्सीनेशन को लेकर स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़े बताते हैं कि करीब 20 करोड़ डोज में से 20 फीसदी डोज हेल्थ वर्कर्स और फ्रंटलाइन वर्कर्स को दी गई है। वहीं 75.6 फीसदी डोज 45 वर्ष से ज्यादा उम्र के लोगों को दी गई है। जबकि 18-44 साल के लोगों को 6.4 फिसदी वैक्सीन मिला है।

130 दिन में 20 करोड़ लोगों को लगी कोरोना वैक्सीन

केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने कहा कि भारत अमेरिका के बाद सिर्फ 130 दिनों में यह कवरेज हासिल करने वाला दूसरा देश है. यूएसए को 20 करोड़ के आंकड़े तक पहुंचने में 124 दिन लगे थे वहीं, भारत को केवल 6 दिन ज्यादा लगे हैं. इसके अलावा, डेटा और कई समाचार लेखों में हमारी दुनिया पर उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार, कोविड -19 टीकाकरण अभियान में अन्य प्रमुख देशों में यूके शामिल है, जो 168 दिनों में 5.1 करोड़ अंक तक पहुंच गया है, ब्राजील 128 दिनों में 5.9 करोड़ अंक तक पहुंच गया है और जर्मनी जो 149 दिनों में 4.5 करोड़ अंक तक पहुंचा है.

60 से ज्यादा उम्र के 42 प्रतिशत लोगों को लगी वैक्सीन

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के पास उपलब्ध नए आंकड़ों के अनुसार देश में अब तक 45 वर्ष से ऊपर की 34 प्रतिशत से अधिक आबादी को कोविड-19 वैक्सीन की कम से कम पहली खुराक मिल चुकी है. इसी तरह, भारत में 60 साल से ज्यादा वर्ष की आबादी के 42 प्रतिशत से अधिक को कोविड -19 वैक्सीन की कम से कम पहली खुराक मिली है.

देश में कम हो रहा पॉजिटिविटी रेट

कोरोना टीकाकरण के तीसरे चरण की शुरुआत 1 मई, 2021 से हुई थी. इस बीच, भारत में दैनिक कोरोना पॉजिटिविटी रेट कम हो गई गया और अब यह 9.42 प्रतिशत है. पिछले 24 घंटों में, देश में 2 लाख 8 हजार 921 नए कोरोना के मामले सामने आए और 4 हजार 157 मरीजों की मौत हुई.

Youtube Videos

Related post