• May 19, 2024
 योगी ने प्रदेश मंत्रिमण्डल के सदस्यों के साथ वर्चुअल संवाद किया

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए सावधानी और सतर्कता जरुरी है। पिछले एक वर्ष के दौरान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कुशल नेतृत्व में कोरोना के विरुद्ध सफलतापूर्वक लड़ाई लड़ी गयी और उसके सुपरिणाम सभी के सामने आए। कोविड-19 के प्रथम दौर को नियंत्रित करने में प्रदेश सफल रहा। कोरोना की दूसरी लहर एक बार फिर से प्रदेश, देश व दुनिया में तीव्र संक्रमण के रूप में सामने आयी है, जिसका मुकाबला कार्ययोजना बनाकर टीमवर्क के साथ करना होगा। हमें लोगों के जीवन व जीविका दोनों को बचाना है। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि बेहतर कोविड प्रबन्धन और व्यापक टीकाकरण के माध्यम से हम एक बार फिर कोविड के विरुद्ध लड़ाई को मजबूती के साथ जीतेंगे। उन्होंने अपेक्षा की कि सभी स्तर पर कोविड प्रोटोकॉल का पालन किया जाए।

08c43bc8-e96b-4f66-a9e1-d7eddc544cc3
345685e0-7355-4d0f-ae5a-080aef6d8bab
5d70d86f-9cf3-4eaf-b04a-05211cf7d3c4
IMG-20240117-WA0007
IMG-20240117-WA0006
IMG-20240117-WA0008
IMG-20240120-WA0039

योगी ने कहा कि हाल ही में प्रधानमंत्री की कोविड के सम्बन्ध में देश के सभी मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग हुई। महामहिम राज्यपाल आनंदीबेन पटेल के साथ विगत दिवस सर्वदलीय बैठक सम्पन्न हुई है। आज महामहिम राज्यपाल ने स्थानीय निकाय के प्रतिनिधियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से संवाद किया। उन्होंने कहा कि कोविड के विरुद्ध के संघर्ष में समाज के हर वर्ग, हर तबके का सहयोग आवश्यक है।

योगी ने मंत्रिमण्डल के सदस्यों से अपेक्षा की कि वे कोविड संक्रमण से स्वयं को बचाते हुए पूरी मजबूती के साथ जनता की सुरक्षा व बचाव के सम्बन्ध में हर सम्भव कार्यवाही करें। उन्होंने कहा कि सभी मंत्रिगण अपने-अपने प्रभार वाले जनपदों व विधान सभा क्षेत्रों में भी कोविड-19 के विरुद्ध कार्य योजना बनाते हुए सक्रियता के साथ कार्य करें। जहां तक सम्भव हो सके, तकनीक का सहारा लेते हुए वर्चुअल माध्यम से विभागीय कार्याें को सम्पादित किया जाए। मंत्रिगण अपने-अपने विभागीय कार्यों व कार्यालयों की समीक्षा भी करें।

योगी ने अपेक्षा की कि कोविड के दृष्टिगत प्रदेश में इस समय पंचायत चुनाव को भी सफलतापूर्वक सम्पादित करने में वे अपनी भूमिका का निर्वहन करें। जिला प्रशासन के साथ संवाद बनाते हुए कोविड नियंत्रण सम्बन्धी कार्यवाही की जाए। निगरानी समितियों की सक्रियता तथा इन्टीग्रेटेड कमाण्ड एण्ड कण्ट्रोल सेन्टर की कार्य प्रणाली का भी अनुश्रवण हो। यह सुनिश्चित किया जाए कि फील्ड में कोविड के नियंत्रण व बचाव के लिए कार्य कर रहे सभी कर्मियों के पास आवश्यक उपकरण उपलब्ध रहें। धर्म स्थलों पर ज्यादा भीड़ एकत्रित न होने पाए। स्वच्छता, सैनिटाइजेशन व फाॅगिंग का व्यापक अभियान चलाया जाए। कंटेनमेन्ट जोन के सम्बन्ध में सख्ती से कार्यवाही हो। एल-2 व एल-3 सुविधाओं से युक्त बेड्स की उपलब्धता सुनिश्चित की जाए। मानव संसाधन के प्रशिक्षण की व्यवस्था हो। वर्चुअल आई.सी.यू. के माध्यम से कोविड नियंत्रण व उपचार की कार्यवाही हो। वेण्टीलेटर व एचएफएनसी हर हाल में कार्यशील रहे। डेडीकेटेड कोविड अस्पताल की व्यवस्थाएं सुनिश्चित हो। निजी क्षेत्रों का भी सहयोग लिया जाए।

योगी ने कहा कि प्रत्येक जनपद की स्थानीय परिस्थितियों के अनुसार कार्यवाही की जाए। कोविड नियंत्रण व बचाव के सम्बन्ध में जनपद स्तर पर समीक्षाएं की जाएं। कोविड व नाॅन कोविड मरीजों के लिए अलग-अलग एम्बुलेन्स की व्यवस्था रहे। डाॅक्टर्स व पैरामेडिक्स सहित अन्य कर्मियों को कोविड संक्रमण से सुरक्षित रखने के कार्य किये जाएं। ‘108’ एम्बुलेन्स सेवा के 50 प्रतिशत वाहनांे का उपयोग कोविड कार्याें के लिए सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने कहा कि सभी सरकारी कोविड अस्पतालों में जांच व उपचार की व्यवस्था निःशुल्क है। काॅन्टैक्ट टेªसिंग व टेस्टिंग का कार्य अधिक से अधिक किया जाए। सीएसआर तथा अन्य जनप्रतिनिधियों का सहयोग कोविड नियंत्रण व बचाव के लिए प्राप्त किया जाए।

योगी ने कहा कि कोविड नियंत्रण व बचाव के लिए प्रदेश में व्यापक स्तर पर टीकाकरण अभियान संचालित है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मार्गदर्शन में महात्मा ज्योतिबा फुले की जयन्ती 11 अप्रैल से लेकर बाबा साहब डॉ. बी.आर. आंबेडकर की जयन्ती 14 अप्रैल, 2021 तक टीका उत्सव चलाया जा रहा है। इसमें लक्षित आयु वर्ग के लोगों का व्यापक स्तर पर टीकाकरण कार्य किया जाए। वैक्सीन का वेस्टेज न हो। उन्होंने कहा कि 11 अप्रैल को 6,000 केन्द्रों पर 03 लाख लोगों को टीकाकरण किया गया। इन केन्द्रों की संख्या 8,000 तक की जा रही है।

योगी ने पवित्र रमज़ान माह की शुभकामनाएं दीं

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पवित्र रमज़ान माह के अवसर पर प्रदेशवासियों को हार्दिक बधाई व शुभकामनाएं दी हैं।

अपने शुभकामना संदेश में योगी ने कहा कि रमज़ान के पवित्र दिनों में रोज़ा, मानवता की सेवा, ईश्वर की बन्दगी जैसे नेक कार्यों से धैर्य, आत्म अनुशासन, सहनशीलता, सादगी आदि मूल्यों को बढ़ावा मिलता है। इससे परस्पर प्रेम और भाईचारे की भावना बलवती होती है।

योगी ने कहा है कि उत्तर प्रदेश समरसता, भाईचारे और सांस्कृतिक एकता की मिसाल है। इसी विरासत और परम्परा को अक्षुण्ण रखते हुए कोरोना संक्रमण के मद्देनजर लोग रमज़ान के दौरान घर में ही रहकर धार्मिक कार्य सम्पन्न करें।

Youtube Videos

Related post